जमानत पर जेल से रिहा हुए दिलीप

caseनैनी, इलाहाबाद : पूर्व मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी पर हुए हमले के आरोपी चाका के पूर्व ब्लाक प्रमुख दिलीप मिश्र को शुक्रवार को नैनी जेल से रिहा कर दिया गया। एक दिन पहले ही दिलीप की जमानत अर्जी हाईकोर्ट ने मंजूर की थी। शुक्रवार को रिहाई के बाद उनके समर्थकों ने वाहन जुलूस निकाला। बता दें 12 जुलाई 2010 को तत्कालीन बसपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे नंद गोपाल गुप्ता नंदी पर उनके घर के बाहर रिमोट बम से हमला हुआ था। जिसमें उनके एक गनर, मोहल्ले के राकेश मालवीय नामक व्यक्ति और पत्रकार विजय प्रताप सिंह की मौत हो गई थी। जबकि गंभीर रूप से घायल नंदी की जान कई महीनों तक चले इलाज के बाद बच सकी। इस मामले में विधायक विजय मिश्र, राजेश पायलट, महेन्द्र मिश्र और दिलीप मिश्र मुख्य आरोपी के रूप में सामने आए थे। विजय मिश्र की पिछले वर्ष जमानत के बाद रिहाई हो गई थी। जबकि दिलीप को आज नैनी जेल से रिहा किया गया। रिहाई के एक घंटे पहले ही उनके समर्थक जेल के बाहर जुटने लगे थे। दिलीप के जेल से बाहर आते ही समर्थकों ने नारे लगाते हुए उसे फूल-मालाओं से लाद दिया। इसके बाद जेल से लवायन स्थित घर तक जुलूस निकाला गया। जुलूस में सैकड़ों की संख्या में समर्थक मौजूद रहे।