इलाहाबाद में नया यमुना पुल के पिलर में दरार

11_07_2014-Allahabad-Bridgeइलाहाबाद :इलाहाबाद में यमुना नदी पर करीब दस वर्ष पहले बने पुल के एक पिलर में दरार आने से सनसनी फैल गई है। यह पुल देश के पूर्वी क्षेत्र को पश्चिमी क्षेत्र से जोड़ने का काम करता है।

इलाहाबाद यमुना नदी पर बने पुराने पुल के बाद जब नया पुल बना तो इसने अपनी डिजाइन तथा सुंदरता के कारण विश्व भर में प्रसिद्घि प्राप्त कर ली। करीब दो दिन पहले इस पुल के 19वें पिलर पर दरार दिखने के कारण पुल के उस पांच मीटर के क्षेत्र में घेरा बना दिया गया है। 2000 में शुरू हुआ यह पुल 2004 में बनकर तैयार हुआ। इसको कोरिया की हुंडेई तथा भारत की एससीसी ने बनाया है। केबिल बेस देश के सबसे लंबे पुल की लागत करीब दो सौ करोड़ रुपये आई है। 1,510 मीटर लंबे तथा 250 मीटर चौड़े छह लेन के पुल से पर वाहनों का भारी दबाव है। यह पुल देश को पश्चिम तथा पूर्व क्षेत्र से जोड़ता है। इस पुल की देखरेख कर रही कंपनी के लोगों का कहना है कि दरार पाटने का काम जल्द ही शुरू कर पूरा कर लिया जाएगा। इससे वाहनों के आवागमन पर खास फर्क नहीं पड़ेगा।