महिलाओं को बोल्ड एंड सैक्सी दिखाने में भारतीय फिल्में है सबसे आगे

RANVEER
मुंबई :भारतीय फिल्म इंडस्ट्री महिलाओं को सैक्सी दिखाने में पहले स्थान पर है। यहां करीब 35 फीसदी महिला किरदारों को कुछ न कुछ नग्नता के साथ फिल्मों में दिखाया जाता है। यह बात दुनिया भर की लोकप्रिय फिल्मों की महिला किरदारों का संयुक्त राष्ट्र की ओर से प्रायोजित प्रथम वैश्विक अध्ययन में सामने आई है।

यह अध्ययन जेंडर इन मीडिया पर गीना डेविस इंस्टीट्यूट ने यूएन वूमन एंड द रॉकफेलर फाउंडेशन के सहयोग से किया है। अध्ययन में पाया गया है कि भारतीय फिल्मों में महिला किरदारों को सैक्सी दिखाने की प्रवृति सबसे ज्यादा है और फिल्मों में महिला निर्देशकों, राइटर या प्रोड्यूसर की तादाद भी कम है।

भारतीय फिल्में महिलाओं की सेक्सी छवि पेश करने में ज्यादा ही आगे है। उन्हें इंजीनियर और डॉक्टर जैसे अहम रोल निभाने के कम ही मौके मिलते हैं। दुनिया में आधी आबादी महिलाओं की है लेकिन फिल्मी पात्रों में इनकी हिस्सेदारी एक तिहाई से भी कम है।

भारत की फिल्मों में महिलाओं को सैक्सी दिखाना पूरे फिल्म जगत में एक मानक बन गया है। उन्हें पुरूषों की तुलना में कहीं कम कपड़ों में या पूरी तरह से बिना कपड़ों की और न्यूड तक दिखाया जाता है।

आपको बता दें कि महिलाओं को सैक्सी कपड़ों में दिखाने के मामले में भारत, जर्मन और ऑस्ट्रेलियाई फिल्मों के बाद तीसरे नंबर पर है लेकिन अपनी फिल्मों में महिलाओं को आकर्षक दिखाने के मामले में भारत पहले पायदान पर है।