Category Archives: खुलासा

यह है सेक्स करने का सही एंगल, साथी को होगा हर बार ऑर्गेज्म

आप अब तक एक राइट एंगल मापने के लिए प्रोटेक्टर का इस्तेमाल कागजों पर करते होंगे। लेकिन अगर आपको एंगल मापने का सही ज्ञान होगा तो आप अपने साथी को हर बार ऑर्गेज्म की प्राप्ति करवा सकते हैं। आपको यह जान कर थोड़ी हैरानी होगी कि हालिया शोध में सेक्स करने का सही एंगल निकाल लिया गया है जिससे आप अपने साथी को हर बार चरमसुख दे सकते हैं।

ब्रिटेन की सबसे बड़ी ऑनलाइन सेक्स टॉय विक्रेता लवहनी के एक सर्वे में एक बात सामने आई कि अगर आप अपने साथी के जी स्पॉट पर 27 डिग्री पर हिट करते हैं तो उनके ऑर्गेज्म की प्राप्ति के चांस बढ़ जाते हैं। 

लवहनी के सेक्स एक्सपर्ट जेस वाइल्ड ने कहा- मर्द इंटरकोर्स के दौरान अगर वो अपने साथी को जी-स्पॉट पर टच करते हैं वो भी 27 डिग्री का एंगल लेकर तो दोनों को सेक्स सुख की जो प्राप्ति होगी वो असीम होगी। इस एंगल को पाने के लिए वो तकिये का सहारा ले सकते हैं।

फिर बनेंगे धोनी कप्तान, विजय हजारे ट्रॉफी में संभालेंगे झारखंड टीम की कमान…

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी क्रिकेट के मैदान में एक फिर से कप्तानी करते नजर आएगें। धोनी घरेलू टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी में झारखंड टीम की कप्तानी करेंगे।

हाल ही में उन्हें आईपीएल सीजन 10 के नीलामी से ठीक एक दिन पहले राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स टीम की कप्तानी से हटा दिया गया था पर ये खबर उनके फैंस के लिए खुशी देने वाली है।

गौरतलब है कि धोनी ने इंग्लैंड सीरीज के पहले टीम इंडिया की वनडे और टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया था। इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी बार अभ्यास मैच में धोनी टीम की कप्तानी करते दिखे थे।

आपको बता दें कि पिछले दो सीजन में झारखंड के लिए खेलते हुए धोनी ने कभी भी टीम की अगुवाई नहीं की लेकिन इस बार उन्होंने जिम्मेदारी निभाने का बीड़ा उठाया। राष्ट्रीय चैम्पियनशिप के लिए यह झारखंड की मजबूत टीम होगी। धोनी के अलावा उनके पास विस्फोटक इशान किशन और घरेलू सत्र के शीर्ष स्पिनर शाहबाज नदीम टीम में हैं।

इशांक जग्गी और वरूण आरोन भी उनकी टीम में हैं, जिन्हें हाल में आईपीएल अनुबंध मिला है। इसके अलावा उनके पास सौरभ तिवारी और युवा विराट सिंह भी हैं।

टीम इस प्रकार है: महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), इशान किशन, इशांक जग्गी, विराट सिंह, सौरभ तिवारी, कौशल सिंह, प्रत्यूष सिंह, शाहबाज नदीम, सोनू कुमार सिंह, वरूण आरोन, राहुल शुक्ला, अनुकुल राय, मोनू कुमार सिंह, जसकरण सिंह, आनंद सिंह, कुमार देवब्रत, एस राठौड़, विकास सिंह.

नए लुक में मारुति सूजुकी की जिप्सी…5 लाख कीमत…लग्जरी कार भी हो जाएंगी फेल !

मारुति सुजूकी ऑटो इंडस्ट्री में बवाल मचताती जा रही है। अब जिप्सी को ऐसा लुक दिया गया है कि इसके सामने लग्जरी कार भी फेल हो जाएंगी।

मारुति सुजूकी लगातार अपनी कारों के मॉडल में बदलाव करते जा रही है। दरअसल मारुति का मानना है कि वक्त के हिसाब से कारों के लुक में भी बदलाव होना चाहिए। खासकर कंपनी का टारगेट अब यंग जनरेशन भी है। इस वक्त देखा जा रहा है कि दुनियाभर की तमाम कार मेकर कंपनियां एसयूवी ला रही हैं। हालांकि मारुति ने भी इग्निस के नाम से अपनी एसयूवी लॉन्च की लेकिन अब वो कार की दुनिया में नया हाहाकार मचाने की तैयारी कर रही है। आपको याद होगा मारुति की जिप्सी एक वक्त में पूरे भारत में बेहद ही लोकप्रिय थी। अब ये जिप्सी नए लेवर में नजर आने वाली है। इसके नए लुक के आगे लग्जरी कार भी फेल हो जाएंगी। जी हां कुछ इसी तरह से इस कार को डिजायन किया जा रहा है।

बताया जा रहा कि कंपनी इस वक्त एसयूवी पर ही फोकस कर रही है। इसके साथ ही वो युवाओं को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए जिप्सी को ही नए कलेवर में उतारने जा रही है। बताया जा रहा है कि भारत में जिप्सी 1.2 लीटर इंजन में आ सकती है। इसके अलावा दुनिया के बाकी देशों में ये 658cc के टर्बोचार्ज्ड इंजन के वैरियंट साथ लॉन्च हो सकती है। इसके अलावा कहा ये भी जा रहा है कि इस कार में 1.0 लीटर बूस्टर जेट इंजन भी एक विकल्प हो सकता है। कहा जा रहा है कि भारत में इस जिप्सी को ऑल व्हील ड्राइव ऑप्शन के साथ और हल्की बॉडी के साथ लॉन्च किया जा सकता है। इसके अलावा इस शानदार कार में 5 स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन भी फिट किया गया है। इसके अलावा भी इसकी कई खूबियां हैं।

बताया जा रहा है कि इस जिप्सी को डायनामिक ड्राइव देने के लिए और फ्यूल एफिशिएंट बनाने के लिए कंपनी पूरी मेहनत के साथ काम कर रही है। सबसे खास बात ये है कि विदेशी कार जैसी लुक PIC 1- लग्जरी कारवाली इस कार की कीमत बहुत ही कम रखी जा सकती है मीडिया रिपोर्ट का कहना है कि इस कार की कीमत 5 लाख से 8 लाख रुपये के बीच हो सकती है। अब आपको दिल में सवाल होगा कि आखिर ये कार भारत में कब लॉन्च होगी।

तीन साल से बच्चियों का यौन शोषण कर रहा था केंद्रीय विद्यालय का प्रिंसिपल

बंगलूरू में केंद्रीय विद्यालय के प्रिसिंपल को घिनौनी हरकत करने के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया। एक्स प्रिंसिपल का नाम कुमार ठाकुर है और उसके खिलाफ एक बच्ची के यौन शोषण की वजह से ये बड़ा कदम उठाया गया है। बताया जा रहा है कि वो तीन साल से स्कूल की लड़कियों को अपना शिकार बना रहा था।

केंद्रीय विद्यालय संगठन ने बताया कि केवीएस रिजनल ऑफिस के डिप्टी कमीश्नर की ओर से बनाई गई जांच समिति ने प्रिंसिपल के इस कारण गिरफ्तार भी करने का फैसला दिया था, लेकिन उन्हेंबाद में बेल पर छोड़ दिया गया और दूसरे स्कूल में ट्रांसफर कर दिया गया है।
ऐसे हुआ खुलासा

ठाकुर को प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड फ्रॉम सेक्सुयल ऑफेन्स (पोस्को) के तहत गिरफ्तार किया गया था। 2 फरवरी को बच्चों के अधिकारों की रक्षा करने वाले कर्नाटक स्टेट कमीशन ने ठाकुर के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की।
टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक वो करीब तीन साल से 10 और 12 क्लास की लड़कियों का यौन शोषण कर रहा था।

बीमे की रकम के लिए मां ने बेटे का करवाया कत्ल, दो सालों से रच रही थी साजिश

एक मां पैसों की चाहत में इस कदर पागल थी कि उसने इसके लिए अपने 12 साल के बच्चे की बलि चढ़ा दी। आरोपी मां एक एनआरआई है और उसने अपने दो साथियों के साथ मिलकर इस खूनी खेल को अंजाम दिया। एनडीटीवी की खबर के मुताबिक महिला और उसके साथियों ने इंश्योरेंस के पैसों के लिए बच्चे को गोद लिया था, जो कि उनकी योजना का एक हिस्सा था।

जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है उनका नाम आरती धीर, नीतीश मुंडे (27) और कंवलजीत हैं। आरती और नीतीश मूल रूप से पंजाब के गुरदासपुर के रहने वाले हैं और कंवलजीत रायजादा केशोड का रहने वाला है। दरअसल, ये तीनों लंदन में रहते थे और साल 2015 से ही इंश्योरेंस के पैसों को चोरी से पाने का प्लान बना रहे थे।
बच्चे को किया किडनैप फिर चाकू घोंपा

तीनों ने इस वारदात को गुजरात के राजकोट में अंजाम दिया। 8 फरवरी के दिन नीतीश, बच्चा गोपाल और उसकी बड़ी बहन के पति हरसुख पटेल राजकोट के मालिया लौट रहे थे। नीतीश ने प्लान के तहत एक जगह गाड़ी को रुकवा दिया, वहां पर एक बाइक सवार आया और गोपाल को किडनैप करने की कोशिश करने लगा।

जब हरसुख ने उसका विरोध किया तो उसने चाकू से उस पर हमला कर दिया और बच्चे को छीन कर ले गया। आगे जाकर बाइक सवार ने गोपाल को कई बार चाकू घोंप दिया।

इसके बाद हरसुख ने बच्चे को किसी तरह ढूंढा और गंभीर हालत में अस्पताल पहुंया, जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस के मुताबिक तीनों आरोपियों को पॉलिसी के तहt करीब 1.20 करोड़ मिलने थे, इसीलिए उन्होंने खूनी मंजर को अंजाम देने का अपराध किया था।

इस मुल्क में सेक्स के लिए नहीं है लोगों के पास नहीं है वक्त, जाने क्यों

जापान में नागरिकों पर हुए सर्वे में आया है कि वहां के लोगों के पास सेक्स के लिए भी वक्त नहीं है। जापान की आधी से ज्यादा आबादी सेक्सलेस मैरिज के कान्सेप्ट पर जी रही है। यह सर्वे ‘द गार्जियन’ में छपा है जिसमें 16 से 49 साल तक के 3 हजार लोगों ने हिस्सा लिया है।

जापान के परिवार नियोजन असोसिएशन ने सर्वे में यह कहा है कि ज्यादातर कपल्स हफ्ते में केवल एक या दो बार सेक्स करते हैं। इन शादीशुदा लोगों की कोई सेक्स लाइफ नहीं है।

रिकॉर्ड के अनुसार 47.2% शादीशुदा पुरुष और महिलाओं की मैरिज में सेक्स की कोई जगह नहीं है। यह आंकड़ा 2014 में हुए सर्वे से 2.6 प्रतिशत ज्यादा था। असोसिएशन ने 2004 में जह पहला सर्वे किया था तब यह आंकड़ा 31.9% था।
तो आधी हो जाएगी यहां की जनसंख्या

कई शादीशुदा लोगों का कहना है कि काम के बाद उनके पास सेक्स के लिए समय ही नहीं बचता या वो इतना थक जाते हैं कि सेक्स करना पसंद ही नहीं करते। जापान में बच्चे भी कई लोगों की सेक्सलेस लाइफ का कारण हैं। इन कपल्स के पास काम और बच्चों के बाद सेक्स के लिए वक्त ही नहीं होता है।

नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ पॉप्युलेशन और सोशल सिक्यॉरिटी रिसर्च का एक सर्वे में यह भी दावा है कि जापान में वर्जिन लोगों की भी काफी आबादी है। अगर लोग इसी तरह से सेक्सलेस लाइफ जीते रहे तो जापान की जनसंख्या 127 मिलियन से गिरकर 86 मिलियन रह जाएगी।

साभार- द गार्जियन

वैलेंटाइन पर हैं अकेले तो ये तरीके जिंदगी कर देंगे गुलजार

वैलेंटाइन डे आने में केवल तीन दिन बचे हैं। लेकिन अभी तक आपके जिंदगी में किसी लड़की ने दस्तक नहीं दी है। आप सोच रहे हैं कि वैलेंटाइन डे अकेलेपन में गुजरेगा। परेशान न होइए, आपके वैलेंटाइन डे को खुशनुमा बनाने के लिए हम हैं न। ये तरीके आपकी मदद करेंगे-

अपना दिन अपने सेलीब्रटी क्रश के साथ बिताएं-
खुद को अच्छा फील करवाने के लिए आप अपने पसंद के एक्टर या एक्ट्रेस की फिल्म देखें। अपने सपनों के राजकुमार या राजकुमारी के साथ वक्त बिताने का इससे अच्छा तरीका दूसरा नहीं हो सकता।

सिंगल फ्रेंड्स के साथ करें पार्टी-
ये जरूरी नहीं कि हर कोई अपने पार्टनर के साथ वैलेंटाइन मनाए। आप अपने ऐसे फ्रेंड्स के साथ पार्टी का प्लान बनाएं जो स‌िंगल हैं। इसके बाद आप रात में बाहर डिनर करने का प्लान मनाएं। आप चाहे तो सभी सिंगल फ्रेंड्स मिलकर पब या डिस्को भी जा सकते हैं।

खुद के लिए गिफ्ट खरीदें-
आपको कोई गिफ्ट देने वाला नहीं है या फिर आप किसी के लिए गिफ्ट नहीं खरीद पा रहे तो भी आपको परेशान नहीं होना चाहिए। आपको शॉपिंग करनी चाहिए और खुद अपने लिए गिफ्ट खरीदना चाहिए। आप चाहें तो अपने लिए ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं। कभी-कभी खुद को गिफ्ट देना काफी सुकून भरा होता है।

अपना मनपसंद काम करें-
आपकी तारीफ करने के लिए कोई पार्टनर नहीं है तो इसका मतलब ये नहीं कि आप तैयार भी नहीं होंगे। आपको वैलेंटाइन डे पर खुश रहने और इस दिन को एंज्वॉय करने के लिए अपने कुछ पसंदीदा काम करने चाहिए।जैसे अगर आपको किताब पढ़ने का शौक है तो आप इस दिन एक कप कॉफी के साथ अपनी फेवरेट बुक पढ़े, इससे आपका दिन भी अच्छा गुजरेगा। आप चाहे तो अपना फेवरेट फूड भी कुक कर सकते हैं।

Kiss Day: चुंबन में छिपे हैं सेहत के कई राज, आपका जानना भी है जरूरी

ये तो सभी जानते हैं कि पार्टनर को किस करने से प्यार और रोमांस बढ़ता है। लेकिन इस बात से शायद कुछ लोग ही वाकिफ होंगे कि किस करना सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। तो देर किस बात की आइए जानते हैं किस करने के फायदों के बारे में।

– किस करने से दिल स्वस्थ रहता है। जब हम किसी को किस करते हैं तो शरीर से एड्रेनालाईन नामक हार्मोन निकलता है जो रक्त प्रवाह को बढ़ाता है। ये दिल के लिए एक अच्छी एक्सरसाइज साबित होती है।

– किस करने से एड्रेनालाईन के अलावा भी कई खुशी वाले हार्मोन निकलते हैं। इसलिए किस करना दर्द से राहत दिलाता है। अगर सिर में हल्का-फुल्का दर्द हो तो बस अपने पार्टनर को एक किस कर दें।

– अगर आप किसी बात से परेशान हैं और ऐसे में आपका कोई चाहने वाला सामने आ जाए तो उसे किस करने से आपको राहत और खुशी मिलती है। तनाव में रहने पर अगर कोई आपका माथा चूम ले तो भी आप हल्का महसूस करने लगते हैं।

– जिम करने से शरीर का वजन तो कम हो जाता है लेकिन चेहरे की चर्बी घटाने में दिक्कत आती है। किस करने से चेहरे की नसे खिंचती हैं जो चर्बी घटाने में सहायक हैं।

– पार्टनर को किस करने से आप उसके और भी करीब आ जाते हैं। अगर आपको उसकी तारीफ करनी हो तो बस उसे एक किस दे दीजिए। इससे आपका रिश्ता भी मजबूत बनता है।

जीन नहीं, इस वजह से बढ़ता है सेक्स हार्मोन

इस बार यदि वेलेंटाइन दिवस पर आप प्यार की गर्माहट महसूस करें तो इसके लिए अपने जीन या भाग्य को धन्यवाद कहने के बजाय अपने शरीर के भीतर माइक्रोब्स (सूक्ष्मजीवियों) का शुक्रिया अदा करें। दुनिया के बड़े तकनीकी संस्थान एमआईटी के वैज्ञानिकों ने अपने शोध में पाया है कि हाल के वर्षों में हमारे शरीर के भीतर ये सूक्ष्मजीवी बहुत तेजी से बढ़े हैं। ये इंसान की सेहत और मूड के लिए बहुत अच्छे भी होते हैं।

मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) की माइक्रोबायोलॉजिस्ट स्यूजन एर्डमेन ने इन माइक्रोब्स को ‘सेहत की चमक’ बताया है। उन्होंने बताया कि शरीर में पनाह पाने वाले ये सूक्ष्मजीवी हमारी चमड़ी को और भी खूबसूरत और बालों को चमकीला बनाते हैं। हमारी आंतों में बसने वाले ये माइक्रोब्स हमारी सेहत को कई तरह से अच्छा रखते हैं। इनमें एलर्जी संबंधी संवेदनशीलता, हमारा वजन, संक्रमण का अंदेशा और मूड या मिजाज भी शामिल होता है। इसके अलावा यह हमें कामुक (सैक्सी) भी बनाता है।

स्यूजन एर्डमेन ने बताया कि कुछ वर्ष पहले उन्होंने मानवीय ब्रेस्ट मिल्क से अलग किए गए प्रोबायोटिक माइक्रोब को चूहों में प्रवेश कराने की संभावना तलाशी थी। तब प्रयोगशाला में उनके तकनीशियन ने पाया कि इन जानवरों में चमकदार रोएं आने लगे हैं। आगे देखा गया कि पुरुष चूहों में टेस्टोस्टेरॉन स्तर बढ़ने लगा और उनके टेस्टिकल (अंडकोषों) का आकार बढ़ गया। साथ ही उनकी चमड़ी कोमल होने लगी और रस का स्राव बढ़ गया। जबकि चुहियाओं में भी कई बदलाव देखे गए। उनमें सफल गर्भधारण और ज्वलनशीलता को रोकने में मदद करने वाले इंटरल्युकिन-10 नामक प्रोटीन का स्तर बढ़ने लगा। इससे ऑक्सीटोसिन हार्मोन भी बढ़ गया जो प्यार बढ़ाने वाला माना जाता है।

जोड़ा बनाने के लिए और भी आकर्षक बनाते हैं सूक्ष्मजीवी

शोध में पाया गया कि जो सूक्ष्मजीवी हमारे शरीर में होते हैं वे हमें जोड़ा बनाने (विवाह जन्य प्रेम) के लिए आकर्षक बनाते हैं। इसके अलावा हमें प्रजनन संबंधी सफलता के लिए प्रेरित करते हैं। इस तरह स्तनधारी लोगों के भीतर ये माइक्रोब्स न सिर्फ जोड़ा बनाकर स्वस्थ रहने की प्रेरणा देते हैं बल्कि जेनेटिक आकर्षण बढ़ाते हुए शरीर के माइक्रोबायल समूह में प्रजनन की क्षमता भी बढ़ाने लगते हैं।

आमतौर पर पुरुषों में टेस्टोस्टेरॉन नामक रसायन प्रेम की लालसा जगाता है और महिलाओं में ऑक्सीटोसिन से प्रजनन क्षमता प्रभावित होती है। एमआईटी के शोध में चूहों के भीतर मानवीय सूक्ष्मजीवियों के प्रवेश से उनमें टेस्टोस्टेरॉन का स्तर बढ़ गया जबकि चुहियाओं में ऑक्सीटोसिन का स्तर बढ़ा पाया गया। इसलिए टेस्टोस्टेरॉन के कारण प्रेम होना तो सभी जानते हैं लेकिन इनका स्तर बढ़ाने के लिए ये सूक्ष्मजीवी जिम्मेदार होते हैं।

लड़की करने लगे अगर ऐसे इशारे तो समझ लो हो गया उसे आपसे प्‍यार

प्यार का क्या है, ये कभी भी कहीं भी और किसी से भी हो सकता है। मगर सबसे मुश्किल होता है इसका इजहार करना। दिल की बात जुबां पर लाने में कइयों के सालों गुजर जाते हैं, कभी-कभार दिल इस कश्मकश में रह जाता है कि ‘वो मुझसे प्यार करता या करती भी है कि नहीं’। ऐसे में जरूरत है उन इशारों को समझने की, जो पहले ही प्यार में होने के संकेत दे देते हैं।
अब प्यार करने वाले हर एक इंसान ने अपने में बदलाव तो महसूस किया ही होगा। जिससे आप प्यार करते हैं वो शख्स जैसे ही आपके सामने आता है आपके शारीरिक हाव-भाव एकदम से बदल जाते हैं। ऐसे ही उस शख्स का भी हाल होता होगा जो आपके प्यार में होगा, मगर हो सकता है वो चाहता है कि आप पहले पहल करें। कम से कम लड़कियां तो यही चाहती हैं, ऐसे में आइए आपको उन इशारों के बारे में बताते हैं जो लड़कियों के दिल का हाल बयां करते हैं।

– अगर लड़की कई लोगों की बीच सिर्फ आपको ही रेस्पॉन्स दें, अगर आपके कहने पर आपके लिए ड्रिंक लाए तो बेशक वो आपको चाहती है।
– अगर लड़की बार-बार आपसे रूठे या झगड़ा करें, मगर आपको अकेला न छोड़े तो वो आपसे प्यार करती है।
– आपके ऐसे जोक्स पर जिसे आपको भी हंसी न आए, मगर वो ठहाके लगाकर हंसती है तो वो आपसे इंप्रेस हैं।
– अगर किसी लड़के से बातचीत के दौरान लड़की उसके करीब आती है तो इसका मतलब है कि वो उसे पसंद करती है।
– लड़की अगर बार-बार अपने बालों को ठीक करे या अपनी लटों में उंगलियां घुमाने लगे तो ये संकेत है कि आप उसे आकर्षक लग रहे हैं।
– अगर लड़की आपसे ज्यादा देर तक आई कांन्टैक्ट रखें और फिर नजरों को कुछ खास अंदाज में झुका ले तो बेशक वो आपको चाहती है।
– आपसे हर बार सामना होने पर आपका मुस्कुराकर स्वागत करें तो वो आप पर मरती है।
– जब भी लड़की आपके साथ ज्यादा से ज्यादा साथ रहने के बहाने ढूंढे तो ये उसके प्यार का संकेत है।
– अगर लड़की आपके कंधे पर अपना हाथ रख दे या आपपास होने से गलती से बॉडी टच करने का आभास दे तो ये आपके लिए ग्रीन सिंग्लन है।
– अगर कोई लड़की आपको चाहती है तो केवल उतना ही स्किन रिवील करेगी, जिससे आपका ध्यान उसकी तरफ आकर्षित हो।
– अगर लड़की आपके कानों के पास आकर सेक्सी अंदाज में धीरे से बात करें तो ये समझें ले कि आप उसे आकर्षक लग रहे हैं।
– अगर लड़की आपके सामने अपने हाथों को रब करे या अपने शरीर को बार-बार टच करे, जैसे गर्दन पर, बांहों पर हाथ फेरे, तो ये संकेत है कि आप उसे घुमाने के लिए भी कहेंगे तो निराश नहीं होना पडेगा।
– अगर वो आपको पसंद करती है तो आपके देखने पर, वो अपने कपड़े, टॉप को या कुर्ते के बटन को ठीक करने लगेगी।
तो ये हैं किसी भी लड़की के प्यार में होने के इशारे और आप इसे समझकर इस वैलेंनटाइन उसे प्रपोज कर ही डालें। वरना कहीं देर ना हो जाए।

16 -19 साल की लड़कियों को पसंद हैं इस तरह के लड़के…..

 
टीनेजर लड़कियों की पहली पसंद सिर्फ़ लुक होती है और उसकी बॉडी से उसकी संम्पन्नता का एहसास उनको आकर्सित
करता है कुछ मुख्या बातें जो मैं आपको बताने जा रही हू वो सिर्फ़ मेरी नही बल्कि 16 से 19 तक की जायदातर लड़कियों की राय होती है
 
 
सबसे महत्वपूर्ण बात यह है की हर लड़की लड़को मे कुछ अलग सी बात खोजती है पर कुछ ऐसी बातें है जो की सभी लड़कियों की चाहत होती है  16 से 17  की उम्र वाली लड़कियां जो की किशोर अवस्था  मे होती है उन्हें ऐसे लड़के पसंद आते है जो की दिखने मे क्यूट हो ,हसमुख हो और जो उन्हें खुश कर सके | 
जाहिर सी  बात है की लड़कियों का सबसे पहला ध्यान लड़के की मौजूदा  स्तिथि पे जाता है पर लड़के की पर्सनालिटी ऐसी होनी चाहिए की वो भीड़ मे सबसे आकर्षित और प्रभावशाली होने का एहसास दिलाये|
 
हालाकिं सबसे चौकाने वाली बात  यह है की किशोर अवस्था मे लड़कियों को अपने से कही ज़्यादा उम्र वाले शादी शुदा आदमी भी पसंद आने लगते है, कारण बहुत साफ है शादीशुदा संम्पन्न आदमी का आकर्षण उसकी वाकपटुता सबकुछ चेहरे पर दिखाई देता है और ऐसे में उनको पाने की लालसा मन  मे होने लगती है इस तरह की लड़कियों को लगता है की इनसे उनके सारे सपने पूरे हो जाएगे| कारण लालच नही बल्कि इस उम्र में उनके सपने कुछ हाई फाई होते है| 
 

मोटापे से छुटकारा पाना है तो खाएं ये चमत्कारी चीजें

अगर आप मोटापे से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो ब्राउन राइस (भूरा चावल) या ओटमील का सेवन शुरू कर दीजिए। हालिया अमेरिकी शोध में खुलासा हुआ है कि मोटापा घटाने में ब्राउन राइस उतना ही असरदार है, जितना रोजाना 30 मिनट तक फुर्ती से टहलना।

मोटापे से छुटकारा पाना है तो खाएं ये चमत्कारी चीजें


चावल
​अमेरिकी शोधकर्ताओं का कहना है कि रिफाइंड राइस (सफेद चावल) की जगह ब्राउन राइस का सेवन करने से कैलोरी का स्तर घटने लगता है और चयापचय (मेटाबॉलिज्म) की प्रक्रिया तेज हो जाती है। इससे मोटापा कम होने लगता है। इससे पहले किए गए कई शोध में यह बात भी सामने आ चुकी है कि ब्राउन राइस के सेवन से दिल दुरुस्त रहता है और डायबिटीज का खतरा कम होता है। आठ सप्ताह तक किया गया यह शोध अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रीशन में प्रकाशित हुआ।