Category Archives: बिहार

बिहार की सिवान जेल से अब तिहाड़ जेल भेजे जाएंगे शहाबुद्दीन

बिहार के बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व सांसद शहाबुद्दीन को बिहार के सिवान जेल से दिल्ली की तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने पर मुहर लगा दी। सुप्रीम कोर्ट ने राइट टू फेयर ट्रायल के तहत ये आदेश दिए हैं। मीडिया की खबरों के मुताबिक शहाबुद्दीन को एक हफ्ते के अंदर दिल्ली लाया जाएगा।
हालांकि, शहाबुद्दीन की ओर से कहा गया कि अगर उन्हें शिफ्ट किया जाता है तो इससे उनके मानवाधिकारों का उल्लंघन होगा। बता दें कि याचिका चंद्रशेखर और आशा रंजन की ओर से शहाबुद्दीन को दूसरे राज्य की जेल में शिफ्ट करने की याचिका दायर की गई थी।

इनके मुताबिक शहाबुद्दीन से लोगों को खतरा है इसलिए उन्हें जल्द से जल्द शिफ्ट किया जाए। दरअसल, चंद्रकेश्वर प्रसाद की तीन बेटों की हत्या हुई थी जिनका आरोप शहाबुद्दी पर लगा हुआ है। साथ ही आशा रंजन के पति राजदेव रंजन की हत्या में भी शहाबुद्दीन के शामिल होने का आरोप है।

Follow
ANI ✔ @ANI_news
Supreme Court orders to shift Mohammad Shahabuddin from Siwan (Bihar) to Tihar Jail, Delhi
10:42 AM – 15 Feb 2017
79 79 Retweets 140 140 likes

आम कैैदियों की तरह ही रखा जाए शहाबुद्दीन को

शहाबुद्दीन के मामले में सख्ती बरतते हुए कोर्ट ने और भी कई निर्देश दिए हैं। कोर्ट ने कहा कि मामले की सुनवाई तिहाड़ से ही होगी। इसके लिए शहाबुद्दीन को बिहार लाने की कोई जरूरत नहीं है, बल्कि वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए ही आगे की कार्रवाई की जाए।

22h
ANI ✔ @ANI_news
Supreme Court orders to shift Mohammad Shahabuddin from Siwan (Bihar) to Tihar Jail, Delhi
Follow
ANI ✔ @ANI_news
SC ordered to shift Mohammad Shahabuddin from Siwan (Bihar) to Delhi’s Tihar Jail & ordered to conduct the trial through video conferencing
11:00 AM – 15 Feb 2017
34 34 Retweets 52 52 likes

इतना ही नहीं कोर्ट ने कहा कि शहाबुद्दीन को तिहाड़ में किसी भी तरह की स्पेशल सुविधा नहीं दी जाए। उन्हें आम कैदियों की तरह ही रखा जाए।

21h
ANI ✔ @ANI_news
SC ordered to shift Mohammad Shahabuddin from Siwan (Bihar) to Delhi’s Tihar Jail & ordered to conduct the trial through video conferencing
Follow
ANI ✔ @ANI_news
SC orders to shift Mohammad Shahabuddin from Siwan (Bihar) to Delhi’s Tihar Jail and that no special treatment is to be given to him.
11:08 AM – 15 Feb 2017 · New Delhi, India
49 49 Retweets 65 65 likes

बता दें कि शहाबुद्दीन हत्या, रंगदारी, किडनैपिंग और तेजाब कांड के लिए कुख्यात रहे। उन्हें पटना हाईकोर्ट के आदेश के बाद जमानत मिली थी। 16 अगस्त 2004 को सीवान के गोशाला रोड में रहने वाले कारोबारी चंद्रकेश्वर प्रसाद के दो बेटों सतीश और गिरीश का अपहरण हुआ था। चंद्र बाबू की पत्नी कलावती देवी के बयान के बाद जांच में शहाबुद्दीन का नाम सामने आया।

इसके बाद किडनैप हुए सतीश और गिरीश के बड़े भाई राजीव रोशन ने अपनी गवाही में खुलासा किया था कि शहाबुद्दीन की मौजूदगी में उसके दोनों भाइयों को तेजाब में डूबोकर मार डाला गया था।

शहाबुद्दीन नवंबर 2005 से जेल में बंद थे। हाईकोर्ट के आदेश पर शहाबुद्दीन के खिलाफ मामले की सुनवाई शुरू हुई। इसी बीच, 16 जून 2014 को अहम गवाह राजीव की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसमें शहाबुद्दीन और उनके बेटे ओसामा आरोपी हैं।

खौफनाक! बीच सड़क पर बलात्कार, गुप्तांग में डाली बंदूक…

पटना। बिहार के मोतीहारी में एक दिल दहला देने वाली घटना ने दिल्ली का निर्भया कांड याद दिला दिया। यहां एक लड़की के साथ इतना घिनौना कृत्य किया कि जिसने भी सुना उसकी रूह कांप गई। नराधमों ने लड़की को घर से खींचकर उसके साथ बीच सड़क पर बलात्कार किया।

इतना ही नहीं इन हैवानों ने लड़की के गुप्तांग में बंदूक की नली और लकड़ी डाल दी। इसके बाद सभी दबंग वहां से फरार हो गए। लड़की बुरी तरह घायल अवस्था में सड़क पर तड़पती रही। दरअसल, आरोपी ने 13 जून को भी लड़की के साथ बलात्कार किया था। जब इसकी शिकायत लेकर पीड़ित के परिवार वाले आरोपी के घर पहुंचे तो उन लोगों ने जान से मारने की धमकी देकर पीड़ित परिवार को भगा दिया था।

इसके कुछ दिनों बाद आरोपी और उसके साथियों ने लड़की को हथियार के बल पर घर से उठाया और बीच सड़क पर उसके साथ फिर बलात्कार किया। इस पूरे मामले में पुलिस की लापरवाही भी साफ देखने को मिली है। घटना के 7वें दिन पीड़ित का मेडिकल कराया गया था। यदि समय रहते पुलिस ने कार्रवाई की होती तो शायद दूसरी बार लड़की के साथ यह घटना नहीं होती। अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

आरोपी ने कहा- पूर्व मंत्री करते थे कुकर्म, इसीलिए मार दिया चाकू

04_07_2015-20150703221854पटना। शास्त्रीनगर थाने के आशियाना-दीघा रोड स्थित रॉयल कोर्ट अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर-301 में रह रहे बिहार के पूर्व मंत्री एजाजुल हक को शुक्रवार की रात चाकू से गोदकर घायल करने के आरोपी ने अपने बयान से तहलका मचा दिया है।
आरोपी ने पुलिस की पूछताछ में कहा कि पूर्व मंत्री उसके साथ अप्राकृतिक सेक्स करते थे। विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की जाती थी। घटना की रात भी पूर्व मंत्री उसके साथ अप्राकृतिक सेक्स करने की कोशिश कर रहे थे। इसी चक्कर में हुए विरोध के बाद उनको चाकू मारकर फरार हो गया। पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपी ने कहा कि पूर्व मंत्री की ओर से कैश और पिस्टल लूट का आरोप गलत है, उसने ऐसा कुछ नहीं किया है।
पूर्व मंत्री एजाजुल हक को शुक्रवार की रात गंभीर हालत में पारस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। एजाजुल सिवान के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन के करीबी रिश्तेदार हैं। बिहटा थाना पुलिस ने आरोपी को केशोपुर से गिरफ्तार कर लिया।
हमले के बाद आरोपी पूर्व मंत्री की स्कोर्पियो से भाग गया था। भागने के क्रम में उनकी स्कोर्पियो कई जगह टकरा गई। पूर्व मंत्री के चीखने की आवाज सुनकर गार्ड उनके फ्लैट में पहुंचा। उसने तुरंत पुलिस को घटना की सूचना दी। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है।
बिहटा पुलिस की कार्रवाई में केशोपुर से गिरफ्तार आरोपी की पहचान छपरा के डोरीगंज थाने के दयालचौक निवासी के रूप में हुई है। आरोपी पटना के न्यू पाटलिपुत्र गांधी नगर में किराये के मकान में रहकर पुर्व मंत्री के यंहा लैपटॉप चलाने का कार्य करता था । वहीं पूर्व मंत्री ने 50 लाख रुपये नकद और लाइसेंसी पिस्टल लूट की शिकायत की थी।

बिहार में भूकंप ने ले ली 42 की जान

13_05_2015-12bhl102दैनिक जागरण के हवाले से :
पटना। बिहार में मंगलवार को डेढ़ घंटे के बीच भूकंप के सात झटके महसूस किए गए। पहले दो झटके सबसे तेज थे। जान-माल को नुकसान उन दो झटकों के दौरान ही हुआ। ‘दैनिक जागरण’ के सूत्रों के मुताबिक 42 लोगों की मौत हुई है और दर्जनों घायल हुए हैं। आपदा प्रबंधन विभाग 13 लोगों की मौत और 24 के घायल होने की पुष्टि कर रहा है। भूकंप के झटकों की पुन: आशंका के मद्देनजर पूरे प्रदेश में 24 घंटे के लिए अलर्ट जारी कर दिया गया है।
उल्लेखनीय है कि इससे पहले 25 अप्रैल को आए भूकंप के झटकों से राज्य में भारी तबाही मची थी। आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक तब 61 लोगों की मौत हुई थी, लेकिन गैर सरकारी सूत्र मरने वालों की संख्या 130 दर्ज किए थे। सैकड़ों लोग घायल हुए थे।
बहरहाल प्रभावित जिलों के जिलाधिकारियों को कह दिया गया है कि वे रात में पार्कों में शरण लेने वाले लोगों का ख्याल रखें। सभी प्रमुख पार्कों एवं मैदानों में सुरक्षा, प्रकाश और पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित करने का आदेश दिया गया है। आपदा के मद्देनजर बुधवार से राज्य के प्लस-टू तक के सभी स्कूलों में गर्मी की छुट्टी घोषित कर दी गई है। राज्य सरकार की ओर से आश्रितों को बतौर अनुग्रह राशि चार-चार लाख रुपये दिए जा रहे हैं।
दोपहर 12:38 बजे से शुरू हुए भूकंप के झटकों से पूरे राज्य में अफरा-तफरी मच गई। लगातार आए झटकों से कई घर ढह गए। मृतकों और घायलों की संख्या में बढ़ोतरी की आशंका है। भूकंप का केंद्र नेपाल के कोडारी से 22 किमी दक्षिण-पूर्व में था। कोडारी बिहार के सीतामढ़ी जिला से 200 किमी उत्तर में है। उसके बाद तीन घंटे के अंदर एक के बाद एक सात झटके आए, हालांकि उनकी तीव्रता ज्यादा नहीं थी। दोपहर 01:06 मिनट पर आए ऑफ्टरशॉक की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.3 मापी गई। झटके महसूस होते ही लोग बच्चों के साथ सड़कों पर निकल आए। विद्यालयों में भी बच्चों को सुरक्षित खुले स्थानों पर ले आया गया। खगडिय़ा में भूकंप के झटके से एक मंदिर में दरारें आ गई हैं तथा दो मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं। दुर्गावती जलाशय परियोजना के कार्य प्रमंडल कार्यालय की छत गिर गई। नालंदा के राजगीर में ब्रह्मकुंड का पानी फिर लाल हो गया।
आपदा प्रबंधन विभाग का ब्योरा : आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक घायलों में सबसे ज्यादा पूर्वी चंपारण में 11, गोपालगंज में तीन, कटिहार, पटना और मुंगेर में दो-दो लोग शामिल हैं। इसी तरह वैशाली और सिवान में एक-एक व्यक्ति के घायल होने की सूचना है। मकान, पशु एवं अन्य तरह की क्षति का आकलन किया जा रहा है।
बिहार में लगेंगे सिसमोग्राफ : पटना में मौसम विभाग के निदेशक एके सेन ने बताया कि आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से पूरे बिहार में 10 सिसमोग्राफ लगाए जाने हैं। नए सिसमोग्राफ से बिहार के सेसमिक जोन का पता लगाया जाएगा। अभी जो जोन निर्धारित हैं, वे काफी पुराने डाटा पर आधारित हैं। सिसमोग्राफ बेहद संवेदनशील यंत्र होता है। दुनिया में कहीं भी न्यूक्लियर टेस्ट किया जाए या भूकंप आए तो सिसमोग्राफ से इसका पता तुरंत चल जाता है।
‘दैनिक जागरण’ के मुताबिक जिलेवार मृतकों की संख्या
सीतामढ़ी : 08
पूर्वी चंपारण : 05
दरभंगा : 07
पटना : 03
सारण : 03
मधेपुरा : 02
समस्तीपुर : 02
पश्चिमी चंपारण : 01
सिवान : 02
गोपालगंज : 02
नवादा : 01
औरंगाबाद : 01
हाजीपुर : 01
शेखपुरा : 01
कटिहार : 01
अररिया : 01
मुजफ्फरपुर : 01
आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक जिलेवार मृतकों की संख्या :
पटना : 03
पूर्णिया : 02
दरभंगा : 02
पूर्वी चंपारण : 03
सीतामढ़ी : 01
सिवान : 01
सहरसा : 01
12 मई को बिहार में भूकंप के सात झटकों की रिक्टर पैमाने पर तीव्रता
7.3
5.4
6.3
5.0
4.8
5.0
4.2
आंधी-पानी व वज्रपात से बिहार में 11 की मौत
जागरण टीम, भागलपुर : कोसी और सीमांचल में मंगलवार सुबह आंधी- पानी व वज्रपात से सूबे में 11 लोगों की मौत हो गई जबकि दर्जनभर लोग घायल हो गए। मृतकों में कटिहार, पूर्णिया के चार-चार, सहरसा के दो और मधेपुरा के एकव्यक्ति शामिल हैं। आंधी -तूफान में घर गिरने व छप्पर उडऩे से भी कई लोग घायल हो गए।

पटना में नौकरी के नाम पर ‘जिगोलो’ बनने का ऑफर

21_04_2015-jigolo21पटना। नौकरी के नाम पर पहले युवक से पैसे ठगे और बाद में उसे जबर्दस्ती किसी ‘मैडम’ से मिलने को कहा। पीड़ित युवक ने सोमवार को मामले की शिकायत एसएसपी से की। उसका आरोप है कि ठग लगातार फोन पर दबाव बना रहे है मगर थाने पर सुनवाई नहीं हो रही। एसएसपी ने जल्द ही नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले इस गिरोह को पकड़ने का दावा किया है।
पीड़ित युवक सुल्तानगंज थाना क्षेत्र के मुस्सलहपुर हाट का रहने वाला है। युवक ने बताया कि 13 अप्रैल को अखबार में कम्प्यूटर ऑपरेटर के रिक्त पद का विज्ञापन देखा। उसने विज्ञापन पर दिए नंबर पर बात की जिससे रंजीत नाम के शख्स से बात हुई। रंजीत ने युवक के बारे में पहले पूछताछ की और बाद में एक ईमेल आईडी दिया। इस पर फोटो सहित सभी सर्टिफिकेट भेजने को कहा। अगले दिन फोन आया कि आपका सलेक्शन हो गया। रंजीत ने बताया कि पटना में कॉल सेंटर में काम करना है। इसके लिए पहले पांच हजार रुपये जमा करने पड़ेंगे। युवक ने बताए गए अकाउंट में पैसा जमा कर दिया। फिर तीन हजार की मांग हुई। उसने फिर से राशि जमा कर दी मगर फिर भी नौकरी नहीं मिली।

‘वो’ के चक्कर में लड़ाई, फिर पत्नी के नाजुक अंगों पर उड़ेला तेजाब

पटना। पति और पत्नी के बीच ‘वो’ को लेकर झगड़ा था। पत्नी को शक था कि गांव की एक महिला से पति का अवैध संबंध चल रहा है। इसे लेकर अक्सर दोनों के बीच लड़ाई होती थी। हद तो तब हो गई जब दूसरी महिला से रिश्ते रखने से रोकने पर पति ने अपनी मां के साथ मिलकर पत्नी के नाजुक अंगों पर तेजाब उड़ेल दिया।
बख्तियारपुर के रानीसराय में सोमवार को यह घटना हुई। पीडि़ता ने फोन कर मायके वालों की इसकी जानकारी दी। उसके भाई पप्पू साव ने थाने पहुंचकर पुलिस को सूचना दी। पुलिस पीडि़ता को लेकर पीएचसी गई। वहां से चिकित्सकों ने गंभीर अवस्था में उसे पीएमसीएच रेफर कर दिया। महिला का पीएमसीएच में इलाज चल रहा है। पीडि़ता ने आरोप लगाया कि पति जितेंद्र साव का गांव की महिला से अवैध संबंध है। उसका विरोध करने पर सास और पति ने उस पर तेजाब डाला है।
बख्तियारपुर प्रतिनिधि के अनुसार स्थानीय चिकित्सक विनोद कुमार सिंह ने कहा कि महिला के नाजुक अंगों पर तेजाब डाला गया है। प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच भेजा गया है। थानाध्यक्ष महेश प्रसाद सिंह ने बताया कि पीडि़ता के भाई की सूचना पर पुलिस अस्पताल पहुंची। पीडि़ता ने कोई लिखित शिकायत नहीं की है। पीडि़ता के भाई ने बताया कि दो साल पूर्व बहन की शादी की थी। शादी के बाद से ही ससुराल वाले उसे यातना उसे दे रहे थे।

पटना में सेक्स रैकेट का भंड़ाफोड़, आपत्तिजनक हालत में पांच गिरफ्तार

31_03_2015-sex_racketपटना। लंबे समय से मुन्नाचक मुहल्ले में चल रहे सेक्स रैकेट का मंगलवार को भंडाफोड़ हुआ। गुप्त सूचना के बाद हुई पुलिस छापेमारी में तीन ग्राहकों के साथ दो युवतियों को आपत्तिजनक हालत में पकड़ा गया। छापेमारी की सूचना के बाद मौके पर भगदड़ मच गई, जिसके कारण कुछ ग्राहक और युवतियां फरार हो गईं। गिरफ्तार किए गए आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। कंकड़बाग थानाक्षेत्र के मुन्नाचक मुहल्ले में लंबे समय से सेक्स रैकेट चल रहा था। मामले की सूचना पुलिस को हुई तो मंगलवार को अचानक छापेमारी की गई। छापेमारी की सूचना पर मौके पर भगदड़ मच गई। जिस घर में सेक्स रैकेट चल रहा था वहां से कई युवक-युवतियां भागने लगें। इस बीच पुलिस ने आपत्तिजनक हालत में तीन युवकों और दो युवतियों को हिरासत में ले लिया, जबकि कई फरार हो गए। बताया जाता है कि 500 रुपये से दो हजार रुपये के बीच जिस्म की सौदेबाजी की जाती थी। गिरफ्तार किए गए लोगों ने बताया कि प्रति घंटे के हिसाब से पैसे लिए जाते थे।

बच्चों संग खाया जहर, मां और बेटे की मौत

24_03_2015-manervaisnawiपटना। सोमवार की शाम मनेर के तिवारी टोला चटैया में पारिवारिक कलह से त्रस्त मां ने अपने तीन बच्चों के साथ जहर खा लिया। सभी को मनेर पीएचसी लाया गया, वहां से गंभीर हालत होने पर पीएमसीएच भेज दिया गया। पीएमसीएच ले जाने के दौरान मां रीमा देवी और बेटे छोटू की मौत हो गई।
तिवारी टोला चटैया का निवासी निरंजन कुमार उर्फ निर्मल भगत हिमाचल प्रदेश में काम करता है। गांव में रहने वाली उसकी पत्नी रीमा देवी का गोतनी पप्पू भगत की पत्नी के साथ बंटवारे को लेकर विवाद चल रहा था। सोमवार की शाम भी दोनों में विवाद हुआ। इसके बाद रीमा ने अपने बच्चों मुस्कान (8), वैष्णवी (5), छोटू (6) को जहर खिलाने के बाद खुद भी जहर खा लिया। वैष्णवी और रीमा मनेर पीएचसी में एंबुलेंस नहीं रहने के कारण इलाज के लिए घंटों तड़पती रही। यह देख लोग आक्रोशित हो गए और हंगामा किया। सूचना पर पुलिस पहुंची और लोगों को देख पीएचसी की चिकित्सक डॉ. प्रभा ने सभी को पीएमसीएच रेफर कर दिया। मां और बेटे की मौत हो गई जबकि एक बेटी वैष्णवी का इलाज दानापुर में चल रहा है। मुस्कान ठीक है, उसे घर भेज दिया गया। परिवार के लोगों का कहना है कि रीमा व बच्चों ने कीटनाशक खा लिया था।
छह परिवार के बीच आधा कट्ठा जमीन : तिवारी टोला चटैया के निवासी निरंजन कुमार उर्फ निर्मल भगत छह भाई हैं। भाइयों के बीच मात्र आधा कट्ठा जमीन है और एक ही घर में सब रह रहे हैं। इस कारण अक्सर विवाद होता रहता था।

भोजपुरी सिंगर ने परिवार के साथ की खुदकुशी- गाने का एल्बम रिलीज करने में बिक चुका था उसका घर

biharबिहार :-बिहार के सासाराम जिले में गायक की गायकी का अंत हो गया आर्थिक तंगी से परेशान भोजपुरी गायक विकास राय ने अपने परिवार के पांच सदस्यों के साथ जहर खा कर आत्म हत्या कर ली आत्म हत्या का कारण उनका पुस्तैनी मकान का बिकना बताया जा रहा है इस वजह से विकास उसके माता-पिता एक भाई और एक बहन की मौत हो गई। जीवित बचे एक अन्य भाई का इलाज अस्पताल में चल रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक विकास के पिता संतोष राय ने बेटे को गायक बनाने और उसका एल्बम रिलीज कराने के लिए पैतृक जमीन व मकान तक बेच दिया था। इसके बाद पूरा परिवार किराए के मकान में रह रहा था। परिवार पर काफी कर्जा भी हो गया था।

नीतीश विश्वास मत करेंगे पेश -विधायकों की बैठक आज

nitishबिहार विधानमंडल का बजट सत्र आज से शुरू हो रहा है। आज पहले दिन राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी दोनों सदनों के संयुक्त अधिवेशन को संबोधित करेंगे। राज्यपाल के अभिभाषण के बाद सीएम नीतीश कुमार विधानसभा में विश्वास मत पेश करेंगे। अगले दिन 12 मार्च को सरकार वित्तीय वर्ष 2015-16 के लिए दोनों सदनों में बजट पेश करेंगे। 22 अप्रैल तक चलने वाले सत्र के दौरान आधा दर्जन से अधिक विधेयक लाये जा सकते है । सत्र की तैयारी के लिए सत्ताधारी दल जनता दल यूनाइटेड आज विधायक दल की बैठक कर रही है। मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी भी आज विधायकों की बैठक बुला रही है। यह बैठक शाम को बुलाई गई है।

जब नाव डुबाए माझी —उसे बचाए कौन !

13213331बिहार में सत्ता को लेकर जारी उठापठक के बीच मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने रविवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। हालांकि, मांझी पीएम के साथ हुई बातचीत का ब्योरा शेयर करने से बचते नजर आए। प्रेस कॉन्फ्रेंस में सिर्फ इतना कहा कि उन्होंने पीएम से बिहार के विकास के लिए मदद मांगी है।बिहार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने से इनकार करते हुए मांझी ने कहा कि विधायक दल की बैठक बुलाने का अधिकार सिर्फ उनके पास है। ऐसे में नीतीश कुमार को विधायक दल का नेता घोषित करना असंवैधानिक है। मांझी के मुताबिक, उन्होंने राज्यपाल से इस बारे में बात की है। जल्द ही अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे और 20 फरवरी को वे विधानसभा में अपना बहुमत साबित करेंगे। अगर ऐसा नहीं कर पाते हैं, तो इस्तीफा देंगे। मांझी ने यह भी कहा कि वह हर किसी के समर्थन का स्वागत करते हैं।वहीं, नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए मांझी ने उन्हें सत्ता का लोभी बताया। मांझी ने कहा, ”नीतीश सत्ता के बिना नहीं रह सकते। उनका असली चेहरा सामने आ गया है। नीतीश कुमार ने हमें यह सोचकर मुख्यमंत्री बनाया था कि इससे महादलित वर्ग जदयू के साथ आ जाएगा। उन्हें लगता था कि हम रबर स्टैंप की तरह काम करेंगे। शुरूआती दो महीने हमने उनकी हर बात मानी, लेकिन इसके बाद हमने वही किया जो सही था। हमने कभी अपने स्वाभिमान से समझौता नहीं किया। इससे उन लोगों के पेट में दर्द होने लगा और वे हमें हटाने के लिए साजिश रचने लगे।” हालांकि, मांझी ने यह भी कहा कि नीतीश कुमार एक अच्छे आदमी हैं, लेकिन कुछ लोग उन्हें बरगला रहे हैं। नीतीश उनकी बातों में आ गए हैं।

मुख्यमंत्री मांझी पहुंचे अजीजपुर, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

MALA
पटना/मुजफ्फरपुर| मुजफ्फरपुर के सरैया में दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प के बाद गांव में सीआरपीएफ की तैनाती कर दी गई है। मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी बुधवार को अजीजपुर गांव पहुंचने। इसको लेकर गांव की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। मुख्यमंत्री अजीजपुर में पीड़ित परिवार से मिलकर उनकी बात सुनेंगे। दिन के 12 बजे तक राजद प्रमुख लालू प्रसाद के भी यहां आने की संभावना है।
गौरतलब है कि अजीतपुर गांव के एक समुदाय के युवक की लाश मिलने के बाद रविवार को उग्र भीड़ ने एक खास समुदाय की बस्ती पर हमला कर कई घरों को आग के हवाले कर दिया था। झड़प में चार लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। अजीजपुर में घटना के तीन दिन बाद भी कई लोग लौटकर नहीं आए हैं। जिला प्रशासन के वरीय अधिकारी गांव छोड़कर भागे लोगों की घर वापसी के लिए प्रयास कर रहे हैं।

अब तक हुई प्रशासनिक कार्रवाई

मुजफ्फरपुर के सरैया में दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प के मामले में राज्य सरकार ने सरैया के एसडीपीओ संजय कुमार का तबादला कर दिया है। उन्हें स्पेशल ब्रांच में भेजा गया है। स्पेशल ब्रांच में डीएसपी मनोज कुमार को सरैया का एसडीपीओ बनाया गया है। सरैया थाने के तीन पुलिस अफसरों को लाइन हाजिर भी कर दिया है। जिस युवक के अपहरण के बाद हत्या के कारण यह विवाद पैदा हुआ उस मामले के अनुसंधानकर्ता संदीप कुमार, सरैया थाने के प्रभारी आशुतोष कुमार और इंस्पेक्टर सुधाकरनाथ को लाइन हाजिर किया गया है।

एडीजी ने सौंपी रिपोर्ट

एडीजी (मुख्यालय) गुप्तेश्वर पाण्डेय घटना के बाद से मुजफ्फरपुर में कैंप कर रहे थे। मंगलवार को पटना लौटने के बाद उन्होंने सरकार को रिपोर्ट सौंप दी। डीजीपी पी. के. ठाकुर के अनुसार हालात अब सामान्य हैं। इलाके में पुलिस बल की तैनाती कुछ दिनों तक बनी रहेगी। सीआरपीएफ की दो, बीएमपी की सात, रैफ की दो कंपनियों के अलावा काफी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है।