Category Archives: वाराणसी

जेल में बंद युवती हुई गर्भवती, प्रशासन में मचा हड़कंप, दिए जांच के आदेश

जौनपुर। उत्तर प्रदेश की जौनपुर जिला जेल में आठ माह से हत्या के मामले में बंद युवती के गर्भवती होने की खबर से जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। जिलाधिकारी ने इसके जांच के आदेश दिए हैं।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार जेल में विभिन्न आरोपों में 80 महिलाएं बंदी है। चिकित्सकीय टीम द्वारा हर सप्ताह सभी का मेडिकल चेकअप किया जाता है। पिछले कुछ दिनों से एक युवती मेडिकल कराने से इंकार कर रही थी तो डाक्टरों को शक हुआ कि कहीं यह गर्भवती तो नहीं है।

सूचना वरिष्ठ चिकित्सकों को दी गई। इसके बाद वहीं हुआ जिस पर शक था। युवती को जिला महिला अस्पताल भेजा गया जहां मेडिकल जांच में वह गर्भवती पाई गई।

सूत्रों के अनुसार जिलाधिकारी भानु चन्द गोस्वामी ने उच्चस्तरीय जांच कमेटी से जांच कराने का आदेश दिया है । अब जांच कमेटी जांच कर अपनी रिपोर्ट देगी की बिन व्याही युवती कितने दिनों से गर्भवती है और उसका बच्चा कब पैदा होगा।

इस बीच जेल अधीक्षक शैलेंद्र मैत्रेय का कहना है कि डॉक्टर ने शक के आधार पर युवती को मेडिकल जांच के लिए रेफर किया था। जांच में युवती के गर्भवती होने की पुष्टि हुई है। गर्भ कितने माह का है, इसकी रिपोर्ट न्यायालय को सौंपी जाएगी।

उन्होंने कहा कि जेल में युवती अपनी बहन और मां के साथ रहती है । उसने कभी किसी से शिकायत भी नहीं की कि उसके साथ किसने ऐसा किया है।

..जब दूल्हे ने पी शराब तो दुल्हन ने थामा दूसरे का हाथ

05_05_2015-05marriageवाराणसी। अपनी ही शादी में दूल्हे को शराब पीना महंगा पड़ गया। दुल्हन ने शादी से इन्कार कर दिया तो कन्या पक्ष के लोगों ने बरातियों को बंधक बना लिया। वर पक्ष की इज्जत की लुटिया उस समय पूरी डूब गई जब उसी मंडप में दुल्हन ने दूसरे युवक के साथ अग्नि के समक्ष फेरे लिए।
कपसेठी के मड़ैया में रविवार रात एक परिवार की बेटी की बरात जौनपुर से पहुंची। लड़की पक्ष के युवक जब जनवासा पहुंचे तो देखा दूल्हे के कदम लड़खड़ा रहे हैं। बात दुल्हन तक पहुंची तो वह भड़क गई और शादी से इन्कार कर दिया।
बेटी के इा साहसिक कदम की सराहना करते हुए परिवार भी एकजुट हो गया। खर्च हुए तीन लाख रुपये वापसी की मांग को लेकर दूल्हा समेत उसके पिता और कुछ बरातियों को बंधक बना लिया। इसी बीच पूर्व में जिस लड़के से युवती के पिता ने बड़ा परिवार और आर्थिक तंगी का हवाला देते हुए शादी से इन्कार कर दिया था, उसी ने उनकी बेटी का हाथ थामा। दोनों पक्षों ने शादी को हामी भर दी तो उसी मंडप में दोनों की धूमधाम से शादी हुई।
शराब से तौबा, फिर फेरों के लिए मानी दुल्हन
फरुखाबाद। मिलकिया पहाड़पुर के वीरेंद्र सिंह राजपूत की पुत्री की बरात एटा के अलीगंज क्षेत्र से शनिवार रात आई थी। द्वारचार के दौरान दूल्हा गिरीश कुमार गालीगलौज करने लगा। कन्या पक्ष के लोगों ने आरोप लगाया कि दूल्हा नशे में है। यह जानकारी मिलने पर बेटी ने शादी से इन्कार कर दिया। घर वालों ने भी दूल्हे समेत परिवार को बंधक बना लिया। तीन दिन बाद पुलिस की मौजूदगी में दूल्हे ने युवती से शराब न पीने का वायदा किया, जिसके बाद वह शादी के लिए तैयार हुई।

वाराणसी के सारनाथ में चार लाख की चोरी

imagesलखनऊ। वाराणसी के बुद्धा नगर कालोनी परशुरामपुर में 80 हजार नगद व जेवरात सहित लगभग चार लाख रूपये के सामान की चोरी हुई है। प्रापर्टी डीलर अमित यादव अपने दादा की तेरहवीं में शामिल होने परिवार सहित अपने गाँव गए थे। बीती रात्रि वापस आये तो चोरी की जानकारी हुई। स्थानीय थाने को सूचना देदी गई है।

काशी विश्वनाथ मंदिर के पुजारी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

0628_suicideवाराणसी: काशी विश्वनाथ मंदिर के पुजारी संतोष देव पांडेय ने गुरुवार को फांसी का फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। मौके पर पहुंची चौक थाने की पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस की पूछताछ में स्पष्ट नहीं हो पाया है कि आखिर पुजारी ने आत्महत्या क्यों किया।

पुजारी की पत्नी ने बताया कि बीती रात उसका पति के साथ हल्का-फुल्का विवाद हुआ था, लेकिन बाद में सब कुछ सामान्य हो गया था। पत्नी के मुताबिक, वह बच्चे के साथ दूसरे कमरे में सोई थी और पति बाहर के कमरे में देर रात तक टीबी देख रहे थे। सुबह पत्नी ने कमरे में आकर देखा तो टीबी चल रही थी और पति रस्सी के सहारे पंखे से लटका हुआ था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पांच साल से मंदिर में था पुजारी

पुजारी संतोष देव पांडेय अपनी पत्नी और एक बच्ची के साथ लोहारी टोला स्थित विशालाक्षी मंदिर के समीप किराए के मकान में रहता था। वह मूल रूप से सोनभद्र के चोपन का रहने वाला था। पिछले पांच सालों से वह काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा-पाठ और कर्मकांड करा कर अपने परिवार को भरण पोषण कर रहा था।

नहीं स्पष्ट हो पाया आत्महत्या का कारण

काशी विश्वनाथ मंदिर में बाबा भोलेनाथ की साधना करने वाले पुजारी के मन में आत्महत्या जैसा अपराध कहां से और क्यों उत्पन्न हुआ यह इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है। यहां के पुजारी तो भटके हुए श्रद्धालुओं को जीवन जीने का मंत्र बताते हैं और हर वक्त अध्यात्म की बात करते हैं। ऐसे में पुजारी का अचानक से बिना किसी वजह या दबाव के आत्महत्या करना, अपने आप में नया है। फिलहाल पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर मामले की जांच कर रही है।

वाई-फाई से लैस होंगे वाराणसी के घाट

1बीएसएनएल वाराणसी के घाटों को जल्द ही वाई-फाई से लैस करेगा। दूसरे चरण में प्रदेश के अन्य पर्यटक स्थलों को वाई-फाई से कवर किया जाएगा। इसके साथ ही नैशनल ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क (नॉफन) से जोड़ी जा रही पंचायतों में लगे ब्रॉडबैंड से गांव के लोगों को हॉटस्पाट के जरिए वाई-फाई सुविधा दी जाएगी। ब्रॉडबैंड के जरिए गांवों के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर टेलीमेडिसिन, स्कूल कालेजों में ई-एजुकेशन व पंचायत में ई-सुविधा केंद्र खोले जाएंगे। बीएसएनएल के चीफ जनरल मैनेजर सुनील परिहार ने बताया कि लखनऊ, वाराणसी, अयोध्या, नैमिषारण्य, चित्रकूट, इलाहाबाद सहित कई पर्यटन स्थलों पर मोबाइल नेटवर्क बेहतर किया जा रहा है। कोशिश की जा रही है कि वाराणसी के घाटों पर सबसे पहले वाई-फाई की सुविधा दी जाए। इससे वाराणसी के पर्यटकों को हर घाट और गंगा में नाव की सैर के दौरान वाई-फाई की सुविधा मिलेगी। इस काम के लिए क्वॉटजेन कंपनी के साथ करार भी किया जा चुका है। वाई-फाई की सुविधा देने के बदले कंपनी उपभोक्ताओं को पासवर्ड देते समय मामूली भुगतान भी लेगी। परिहार ने बताया कि अगले महीने तक पूर्वी परिमंडल के करीब 200 गांव ब्रॉडबैंड सुविधा से लैस हो जाएंगे। इसके बाद इन गांवों के लोगों को पंचायत भवन के आसपास के क्षेत्र में हॉटस्पॉट के जरिए वाई-फाई सुविधा दी जाएगी। यह सुविधा भी न्यूनतम दरों पर मिलेगी। सीजीएम ने बताया कि नॉफन प्रॉजेक्ट से जुड़े गांवों के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर टेलीमेडिसिन की सुविधा देने के साथ ही वहां के स्कूलों में ई-एजूकेशन की सुविधा भी मिलेगी जबकि पंचायतों में लगे ब्रॉडबैंड से लोग ई-सुविधा केंद्र का फायदा लेने के अलावा जरूरी काम भी निपटा सकेंगे।

बिस्मिल्लाह खान की शहनाई चोरी

1वाराणसी। भारत रत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह खान की शहनाई उनके घर से ही चोरी हो गयी है। खास बात यह है कि बिस्मिल्लाह खान के छोटे बेटे ने अपने बड़े भाई पर शहनाई चोरी करने का आरोप लगाया है। खान के छोटे बेटे नाजिम हुसैन ने ही चोरी की रिपोर्ट थाने में दर्ज करायी। यहां तक कि उनके परिवार ने सीबीआइ जांच की मांग भी कर डाली है। 31 अगस्त 2008 को बिस्मिल्लाह खान का निधन हो गया था। उनके निधन के बाद से ही उनकी शहनाई घर के एक कमरे में रखी थी। यह कमरा बंद रहता था, चोरी का पता तब चला जब किसी काम के लिए वो कमरा खोला गया। उस्ताद बिस्मिलाह को इस शहनाई से बेहद लगाव था, यहां तक कि जब वो सोते थे तब भी इसे सिरहाने रखते थे।

जापान के क्योटो की तर्ज पर वाराणसी बनेगा स्मार्ट सिटी

1वाराणसी को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए इसे जापान के क्योटो शहर की तर्ज पर विकसित किया जाएगा। इसके लिए जापान की मदद ली जाएगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जापान दौरे में 30 अगस्त को सबसे पहले क्योटो पहुंचेंगे, जो वाराणसी की तरह एक प्राचीन शहर है। वहां छठी सदी में बौद्ध धर्म और संस्कृति का प्रसार हुआ था। प्रधानमंत्री मोदी वाराणसी संसदीय क्षेत्र से लोकसभा के लिए चुने जाने के बाद, उस शहर के कायाकल्प करने का चुनावी वादा किया था। उन्होंने क्योटो शहर का पहले भी दौरा किया है। वह इस शहर की प्राचीनता और उसकी आधुनिकता से प्रभावित हैं। मोदी ने जापान दौरे में सबसे पहले क्योटो को चुना, जहां के गवर्नर और मेयर उन्हें अपने शहर के एक ऐतिहासिक शहर के स्मार्ट सिटी में बदलाव की कहानी बताएंगे। मोदी के क्योतो दौरे को अहमियत देते हुए जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबे वहां उनकी अगवानी करेंगे। मोदी ने क्योटो दौरे की जानकारी अपनी ट्वीट में भी दी थी जिसमें उन्होंने कहा था कि वहां वह विभिन्न तबके के लोगों से मिलेंगे। मोदी ने अपने ट्वीट में यह भी कहा था कि जापानी लोगों में नई खोज करने और वक्त की सटीकता का स्तर अद्भुत है। हमें उससे सीख लेनी चाहिए। मोदी के दौरे में वाराणसी और क्योतो के बीच रिश्ता स्थापित करने का ऐलान होगा और फिर वाराणसी का कायाकल्प करने के लिए क्योटो के शहर नियोजकों की मदद लेने के लिए एग्रीमेंट भी किया जाएगा। मोदी क्योटो में प्राचीन तोदोजी मंदिर का भी दौरा करेंगे, जहां प्रधानमंत्री एबे की मौजूदगी में एक सार्वजनिक सभा को भी सम्बोधित करेंगे। मोदी क्योटो के बाद राजधानी टोक्यो भी जाएंगे, जहां प्रधानमंत्री शिंजो एबे के साथ बातचीत के दौरान परमाणु सहयोग समझौते को अंतिम रूप देने पर बातचीत के अलावा अहमदाबाद और मुम्बई के बीच बुलेट ट्रेन लगाने के लिए एक एमओयू पर दस्तखत होने की उम्मीद है। इस दौरे में दोनों देशों के नेता सुरक्षा मामलों में भी अहम बातचीत करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी जापान के सम्राट अकीहीतो से भी मिलेंगे जिन्होंने पिछले साल ही भारत का दौरा किया है।

बि‍जली कटौती से हाहाकार, हंगामा

bijयूपी में फिर से बिजली संकट गहराता जा रहा है। बिजली कटौती से लोगों का हाल बेहाल है। इसका चौतरफा विरोध हो रहा है। रविवार को भी कई जिलों में घंटों बिजली काटी गई। इससे लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। वे सड़कों पर उतर आए और प्रदर्शन करने लगे। शनिवार को बाराबंकी में बिजली कटौती से परेशान लोगों ने जमकर हंगामा किया। गुस्साए लोगों ने एसडीओ को घंटों धूप में बैठाए रखा। शाहजहांपुर के सभासद बिजली कटौती के विरोध में पानी की टंकी पर चढ़ गए। कानपुर में बिजली कटौती से आक्रोशित लोगों ने टीवी, कूलर, पंखे जलाकर अपना गुस्सा जाहिर किया। वहीं, वाराणसी में विधायक अजय राय अपने समर्थकों के साथ बिजली विभाग के बाहर अनशन पर बैठ गए। लखनऊ में भी कई इलाके अंधेरे में डूबे रहे। भीषण गर्मी और उमस के बीच बिजली कटौती होने से यहां के लोगों के सब्र का बांध टूट गया। सड़कों पर उतरकर लोगों ने नारेबाजी की। कई उपकेंद्रों पर तोड़फोड़ भी हुई। सरोजनी नगर, गोसाईगंज और सुल्तानपुर रोड स्थित उपकेंद्र पर लोगों ने जमकर बवाल मचाया। आक्रोशित लोगों को देखकर गोसाईगंज उपकेंद्र के कर्मचारी मौके से भाग खड़े हुए। लोगों ने सीएम का पुतला भी फूंका।
सरोजनी नगर में खराब हुआ ट्रांसफार्मर
सरोजनी नगर में 100 एमवीए के ट्रांसफार्मर में तकनीकी खराबी आ गई। इससे शनिवार को बिजली संकट बढ़ गया। बिजली गुल होने से सरोजनी नगर सहित नारदगंज, आलमबाग, चारबाग, कानपुर रोड, आशियाना, उतरेटिया, वृंदावन, राजाजीपुरम, ऐशबाग, कैसरबाग जैसे इलाके सारी रात अंधेरे में डूबे रहे।
कई इलाकों में नहीं आया पानी
बिजली कटौती के चलते कई इलाकों में शनिवार को पानी की सप्लाई नहीं हो पाई। कृष्णानगर, शारदानगर, तेलीबाग, सरोजनीनगर, कानपुर रोड, एलडीए कॉलोनी और साउथ सिटी कॉलोनी में पानी के लिए लोग तरस गए। रोजमर्रा के काम के लिए उन्हें मजबूरन पानी खरीदना पड़ा।